NRC क्या है? व NRC और CAA में क्या अंतर है?

NRC Full Form in Hindi:- यदि आप यहां पर हैं और इस लेख को पढ़ रहे हैं, तो इसका मतलब है कि आप NRC के बारे में खोज कर रहे हैं।

यदि हाँ, तो आप बिलकुल सही स्थान पर हैं। जी हां, इस लेख में हमने NRC, NPR, CAA और CAB से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की है।

अतः NRC Full Form व उससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को पूरा जरुर पढ़िए। तो चलिए शुरू करते है:-

सूची दिखाएँ

NRC का क्या अर्थ है? : What is NRC Meaning in Hindi

NRC एक नागरिक बिल का राष्ट्रीय रजिस्टर है। इस रजिस्टर में भारत के सभी वैध निवासियों का अभिलेख (Record) रखा जाता है। NRC Full Form “National Register of Citizens” है।

NRC बिल का मुख्य उद्देश्य भारत में अवैध रूप से निवास कर रहे अप्रवासी घुसपैठियों की पहचान करना है, जो कि गैर-कानूनी रूप से बांग्लादेश से भारत आये है।

ऐसे ही घुसपेठियों को भारत में घुसपेठ करने से रोकने के लिए सन 1986 में नागरिकता अधिनियम (Citizenship Act) में संशोधन कर असम के लिए एक विशेष प्रावधान तैयार किया गया।

इस प्रावधान के अंतर्गत रजिस्टर में सिर्फ उन्हीं लोगों के नाम शामिल किया जायेगा, जो कि 25 मार्च 1971 के पहले से असम के नागरिक हैं या उनके पूर्वज असम के निवासी हैं।

भारत में सर्वप्रथम NRC बिल की शुरुआत सन 2013 में उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) ने असम राज्य में की थी। अभी के समय NRC बिल, असम के अलावा भारत के किसी भी अन्य राज्य में लागू नहीं है।

NRC FULL FORM IN HINDI & ENGLISH

NRC FULL FORM IN ENGLISH
NATIONAL REGISTER OF CITIZENS
NRC FULL FORM IN HINDI
नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर

NRC Ka Full FormNational Register of Citizens” हिंदी में NRC Ki Full Form “नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर” है।

NRC के महत्वपूर्ण दस्तावेज क्या-क्या है? : Important NRC Documents in Hindi

जैसा कि आप सभी जानते है कि फ़िलहाल NRC Bill पूरे भारत में लागू नहीं हुआ है। इसलिए भारत सरकार ने इस बिल को लेकर फ़िलहाल किसी भी प्रकार की कोई निश्चित दिशा-निर्देश तैयार नहीं किये है।

ऐसी स्थिति में यह कयास भी लगाये जा रहे है कि अभी इस बिल को लेकर सब कुछ संभावित है।

NRC के लिए उपयोगी दस्तावेजों (Documents) की बात की जाए तो, स्वयं को भारत का वैध नागरिक साबित करने के लिए आपके पास कुछ दस्तावेजों का होना अत्यंत आवश्यक है।

इन्ही दस्तावेजों के माध्यम से आप NRC Bill के भारत द्वारा भारतीय नागरिकता का प्रमाण दे सकते है। NRC के उपयोगी दस्तावेजों की सूची नीचे दी हुई है:-

NRC दस्तावेजों की सूचीNRC DOCUMENTS LIST
शरणार्थी पंजीकरणRefugee Registration
नागरिकता प्रमाण-पत्रCitizenship Certificate
पासपोर्टPassport
अनुज्ञापत्रLicense
भारत सरकार के द्वारा जारी किया प्रमाण-पत्रGovernment Issued Certificate
आधार कार्डAadhar Card
जन्म प्रमाण-पत्रBirth Certificate
एलआईसी बीमाLIC Policy
सरकार या सरकारी उपक्रम के तहत सेवा या नियुक्ति को प्रमाणित करने वाला दस्तावेजA Document Certifying Service or Appointment Under a Government or Public Undertaking
बैंक खाताBank Account
डाकघर खाताPost Office Account
विद्यालयों व विश्वविद्यालयों द्वारा जारी शिक्षा प्रमाणपत्रEducation Certificate Issued by Board/Universities
न्यायिक या राजस्व अदालत की सुनवाई से जुड़ा दस्तावेजDocuments Related to Judicial or Revenue Court Hearings
NRC Documents List in Hindi

National Register of Citizens – NRC PDF Download


भारत में NRC का इतिहास : History of NRC in Hindi

सबसे पहली बार NRC के बारे में जनता को सन 1951 में पता चला। भारत सरकार ने भारत की जनगणना लिए NRC बिल तैयार किया था।

NRC को जनगणना के दौरान मौजूद सभी लोगों के विवरण के आधार पर तैयार किया गया था।

NRC के लागू करने का मुख्य उद्देश्य यह था कि बांग्लादेश के निर्माण के पहले असम में जो लोग 25 मार्च 1971 के पहले से भारत में रह रहे है, केवल उन्हें ही भारत का नागरिक माना जाए।

सन 1979 के समय असम में बाहरी लोगों की घुसपेठ गतिविधियाँ बहुत अधिक बढ़ चुकी थी। इन्हीं घुसपेठ गतिविधियों के खिलाफ़ ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन ने आन्दोलन भी किया।

जिसके फ़लस्वरूप सन 1985 में, उस समय की केंद्र में राजीव गांधी सरकार ने असम गण परिषद से समझौता कर इसके तहत एक बिल पास किया।

जिसके अनुसार सन 1971 से पहले जो भी बांग्लादेशी, असम में गैर-कानूनी रूप से घुसे हैं। उन्हें भारत की नागरिकता प्रदान की जाएगी। सन 2005 में कांग्रेस सरकार ने इस पर अपना कार्य शुरू किया।

लेकिन सन 2015 में उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) के निर्देश पर इसमें तीव्रता आई और तभी से असम में नागरिकों के सत्यापन का कार्य का शुभारंभ हुआ।

31 दिसंबर सन 2017 को बहु-प्रतीक्षित नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (National Register of Citizens) का पहला ड्राफ्ट प्रकाशित हुआ।

कानूनी तौर पर भारत के नागरिक के रूप में पहचान प्राप्त करने हेतु असम में लगभग 3.29 करोड आवेदन प्रस्तुत किये गए थे, जिनमें से कुल 1.9 करोड़ लोगों के नाम को ही इसमें शामिल किया गया था।

20 नवम्बर सन 2019 को भारत के गृहमन्त्री श्री अमित शाह जी ने संसद में कहा था कि इस पंजी का पूरे भारत में विस्तार किया जाएगा।

NRC से जुड़े महत्वपूर्ण घटनाक्रम : Important Developments Related to NRC

NRC से जुड़े जो भी महत्वपूर्ण घटनाक्रम है। उन सभी के बारे में विस्तारपूर्वक नीचे वर्णन किया गया है।

  • सन 1951 में सबसे पहली बार NRC को तैयार किया गया था।
  • सन 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध और बड़ी मात्रा में बांग्लादेशी शरणार्थियों का भारत में प्रवेश को रोकने के लिए इसे तैयार किया गया था।
  • सन 1970-80 में NRC के कारण ही असम में जनांकिकीय परिवर्तन और परिणामस्वरूप अवैध शरणार्थियों और राज्य के निवासियों के बीच सामाजिक, जातीय और वर्ग-संघर्ष शुरू हो गया था।
  • सन 1979-85 में NRC के कारण ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU) के नेतृत्व में असम विद्रोह शुरू हुआ और इस विद्रोह को ऑल असम गण संग्राम परिषद का भी समर्थन प्राप्त हुआ।
  • सन 1985 में असम समझौते पर हस्ताक्षर और सन 1951 में प्रकाशित राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को अद्यतन (Update) किया गया था।
  • सन 2012-13 में NRC के मामले में सर्वोच्च न्यायालय का हस्तक्षेप और केंद्र सरकार को NRC को अद्यतन (Update) करने का दिशा-निर्देश दिया गया था।
  • सन 31 अगस्त 2019 को NRC की अंतिम सूची जारी की गई। जिसमें करीब 19 लाख लोग इस सूची से बाहर हो गए। लेकिन इसे NRC में गड़बड़ी का आरोप बता दिया गया।

एनआरसी को लागू करने की आवश्यकता क्यों पड़ी? : Why there was a need to implement NRC?

भारत सरकार ने असम में अवैध रूप से निवास कर रहे बाहरी देश के लोगों को फिर से उनके देश भेजने के लिए NRC (National Register of Citizens) अभियान शुरू किया।

यह अभियान विश्व के सबसे बड़े अभियानों में से एक है। इस अभियान के तहत पहले अवैध रूप से रह रहे बाहरी देश के लोगों की पहचान की जाएगी। पहचान करने के बाद उन्हें फिर से वापस उनके देश भेजा जाएगा।

जैसे कि असम में इस समय लगभग 50 लाख बांग्लादेशी गैर-कानूनी रूप से भारत में निवास कर रहे हैं। जिसकी वजह से यहां कई दशकों से सामजिक और आर्थिक समस्याएं व्याप्त है।

इन्हीं समस्याओं से छुटकारा प्राप्त करने के लिए भारत सरकार ने NRC बिल पारित किया। NRC उन्हीं राज्यों में लागू होती है, जहाँ से अन्य देश के नागरिक भारत में प्रवेश करते हैं।

नागरिकता की समाप्ति से उत्पन्न होने वाली समस्याएं : Problems Arising From the Termination of Citizenship

  • जिन लोगों के पास स्वयं की संपत्ति है, वह दूसरे लोगों का निशाना बनेंगे।
  • उस व्यक्ति का अपनी स्वयं की संपत्ति पर भी कोई अधिकार नहीं रहेगा।
  • इन्हें किसी भी प्रकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त नहीं होगा।
  • NRC की सूची जारी होने के बाद कोई व्यक्ति किसी भी देश का नागरिक नहीं रहे, तो ऐसी स्थिति में राज्य में हिंसा का खतरा साबित हो सकता है।
  • NRC की सूची जारी होने के बाद कोई व्यक्ति किसी भी देश का नागरिक नहीं रहे, तो ऐसी स्थिति में राज्य में हिंसा का खतरा साबित हो सकता है।

CAB और NRC में क्या अंतर है? Difference Between CAB & NRC in Hindi

देश में कुछ लोग CAB के नाम पर NRC का विरोध कर रहे है, जो कि बिलकुल जायज नहीं है। CAB और NRC दोनों बिलकुल अलग-अलग मुद्दे है।

नागरिकता संशोधन बिल के सामने आने के बाद से तरह-तरह की बहस हो रही हैं।

कुछ लोग कह रहे हैं कि ये एनआरसी का उल्टा है तो ममता बनर्जी जैसे लोग कह रहे हैं कि CAB को पारित ही इसलिए किया गया है, ताकि NRC को लागू करना आसान हो जाए, दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।

अब सभी के मन में प्रश्न यह उठता है कि आखिर CAB और NRC में अंतर क्या है? और किस बात को लेकर यह बहस हो रही है? इन सभी सवालों के जवाब हमनें नीचे दिए हुए है।

CABNRC
नागरिकता संशोधन कानून में एक विदेशी नागरिक को भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है।NRC का मकसद ऐसे लोगों की पहचान करना है, जो भारत के नागरिक नहीं होने के बावजूद भारत में ही गैर-कानूनी रूप से निवास रहे हैं।
CAB के तहत 31 दिसंबर सन 2014 से पहले भारत आए हिंदू, सिख, ईसाई, बौद्ध, जैन और पारसी लोगों को नागरिकता देने के नियमों में ढील दी गई है।NRC के तहत 25 मार्च सन 1971 से पहले से भारत में निवास कर रहे लोगों को भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है।
CAB Full Form “Citizenship Amendment Bill” है।NRC Full Form “National Register of Citizens” है।
CAB Full Form in Hindi “नागरिकता संशोधन कानून” है।NRC Full Form in Hindi “नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर” है।
Difference Between CAB & NRC in Hindi

कुछ अन्य NRC Full Form in Hindi & English

NRC Full FormCategory
Nantahala Racing ClubSports » Racing
National Racing CalendarSports » Racing
National Racquetball ClubSports
National Reconveyance CenterMiscellaneous » Unclassified
National Records CentersMiscellaneous » Unclassified
National Recycling CoalitionCommunity » Non-Profit Organizations
National Refining Co.Business » Companies & Firms
National Reformation CouncilGovernmental » Council
National Registration CardGovernmental » US Government
National Remarketing ConferenceCommunity » Conferences
National Research CenterAcademic & Science » Research
National Research CompanyBusiness » Companies & Firms
National Research CorporationAcademic & Science » Research
National Research CouncilAcademic & Science » Ocean Science
National Resource CenterMiscellaneous » Unclassified
National Resource CentersMiscellaneous » Unclassified
National Response CorporationBusiness » Companies & Firms
National Resuscitation CouncilGovernmental » Council
National Revenue CenterMiscellaneous » Unclassified
National Rifle CommitteeCommunity » Committees
NATO Russia CouncilGovernmental » Council
NATO Russian CouncilGovernmental » Politics
Natural Resource CommissionMiscellaneous » Commissions
Natural Resource CommitteeGovernmental » Environmental
Natural Resources CommissionMiscellaneous » Commissions
Naval Recruiting CenterGovernmental » Military
Neighbourhood Recycling CentreGovernmental » Environmental
Network Reliability CenterComputing » Telecom
Never Really ConfirmedGovernmental » Law & Legal
New Royal CalendarGovernmental
Nike Run ClubCommunity » Clubs
Nineveh Reconstruction CommitteeCommunity » Committees
No Radiation CatastrophiesMiscellaneous » Unclassified
No Regulatory CriteriaGovernmental » US Government
No Right ClickComputing » General Computing
Nobody Really CaresComputing » Texting
Noise Reduction CoefficientGovernmental » Transportation
Non Recurring ChargeMiscellaneous » Unclassified
Non-Recurring ChargeComputing » Telecom
Non-Reusable ContainerGovernmental » Transportation
Non-Unit-related CargoGovernmental » Military
Normal Rational CurveAcademic & Science » Mathematics
Normalized Read CountsMiscellaneous » Unclassified
Norwegian Refugee CouncilCommunity » Non-Profit Organizations
Not Really CompetentBusiness » Occupation & Positions
Not Really ConcernedComputing » Texting
Nuclear Regulatory CommissionGovernmental » Military
Nuclear Regulatory Commission’sMiscellaneous » Commissions
Nuclear Rubberstamp CommissionMiscellaneous » Commissions
Nutritional Research CommitteeMedical » Laboratory
NRC Full Form

Frequently Asked Questions (FAQs) About NRC

NRC का मतलब क्या है?

NRC एक नागरिक बिल का राष्ट्रीय रजिस्टर है। इस रजिस्टर में भारत के सभी वैध निवासियों का अभिलेख (Record) रखा जाता है।

NRC का पूरा नाम क्या है?

NRC का पूरा नाम “National Register of Citizens” है।

NRC का मुख्य उद्देश्य क्या है?

NRC बिल का मुख्य उद्देश्य भारत में अवैध रूप से निवास कर रहे अप्रवासी घुसपैठियों की पहचान करना है, जो कि गैर-कानूनी रूप से बांग्लादेश से भारत आये है।
ऐसे ही घुसपेठियों को भारत में घुसपेठ करने से रोकने के लिए सन 1986 में नागरिकता अधिनियम (Citizenship Act) में संशोधन कर असम के लिए एक विशेष प्रावधान तैयार किया गया।
इस प्रावधान के अंतर्गत रजिस्टर में सिर्फ उन्हीं लोगों के नाम शामिल किया जायेगा, जो कि 25 मार्च 1971 के पहले से असम के नागरिक हैं या उनके पूर्वज असम के निवासी हैं।

NRC के लिए कौन-कौनसे दस्तावेजों की आवश्यकता होती है?

NRC के लिए, शरणार्थी पंजीकरण, नागरिकता प्रमाण-पत्र, पासपोर्ट, सरकार के द्वारा जारी किया अनुज्ञापत्र (License) या प्रमाण-पत्र, किसी भी सरकारी प्राधिकरण द्वारा जारी अनुज्ञापत्र (License) या प्रमाण-पत्र, आधार कार्ड, जन्म प्रमाण-पत्र, LIC बीमा, सरकार या सरकारी उपक्रम के तहत सेवा या नियुक्ति को प्रमाणित करने वाला दस्तावेज, बैंक खाता, डाकघर खाता, सक्षम प्राधिकार की ओर से जारी किया गया जन्म प्रमाणपत्र, बोर्ड व विश्वविद्यालयों द्वारा जारी शिक्षा प्रमाण-पत्र, न्यायिक या राजस्व अदालत की सुनवाई से जुड़ा दस्तावेज में से आपके पास कुछ दस्तावेजों का होना अत्यंत आवश्यक है।

NRC के अंतर्गत नागरिकता साबित नहीं होने पर क्या होगा?

यदि किसी व्यक्ति के पास सरकार द्वारा दिए गए निश्चित समय पर मांगे गए दस्तावेज नहीं पाए जाते है और अगर कोई व्यक्ति NRC में शामिल नहीं होता है, तो उसे नजरबंदी केंद्र (Detention Center) में ले जाया जाएगा। NRC में शामिल नहीं होने वाले लोगों के साथ असम में बिलकुल ऐसा ही होता है। NRC में शामिल नहीं होने के बाद सरकार उनके मूल देश से सम्पर्क स्थापित करेगी, जहाँ का वह व्यक्ति मूल निवासी है। अगर सरकार द्वारा उपलब्ध कराए साक्ष्यों को दूसरे देशों की सरकार मान लेती है, तो ऐसे अवैध प्रवासियों को वापस उनके देश भेज दिया जाएगा। नहीं तो उन्हें अपना जीवन नजरबंदी केंद्र (Detention Center) में ही गुजारना पड़ सकता है।

NRC Full FormNRC Full Form in Hindi
NRC Full Form in EnglishCAB & NRC Full Form
What is NRC Full FormCAA & NRC Full Form
CAA NRC Full Form in HindiCAA, CAB & NRC Full Form
CAA, CAB & NRC Full Form in HindiCAA, CAB & NRC Full Form in English
NRC Full Form

यह भी पढ़े:-

निष्कर्ष

अंत में आशा करता हूँ कि यह NRC Full Form लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान कि गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस NRC Full Form लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रो व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें।

इसके अतिरिक्त, यदि आपके मन में NRC Full Form लेख से संबंधित कोई प्रश्न उठ रहा है? तो आप कमेंट के माध्यम से हमसे पूछ सकते हैं।

हम आपके द्वारा पूछे गए सभी के प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे। भविष्य में भी हम आपके लिए ऐसे ही रोचक व उपयोगी लेख लाते रहेंगे।

अतः आप भविष्य में प्रकाशित होने वाले सभी लेखों कि ताज़ा जानकारी के लिए कृपया हमारे फेसबुक पेज और वेबसाइट को Subscribe कर ले।

ताकि आपको भविष्य में प्रकाशित होने वाले लेखों की ताज़ा जानकारी समय पर प्राप्त हो जाये।

धन्यवाद…

Leave a Comment