Corn Flour In Hindi : कॉर्न फ्लोर और कॉर्न स्टार्च क्या है?

Corn Flour क्या होता है? और इसके फ़ायदे और नुकसान क्या-क्या है?

Corn Flour in Hindi:- नमस्कार, क्या आप जानते है कि Corn Flour क्या होता है? Corn Flour के फ़ायदे और नुकसान क्या-क्या है? और Corn Flour के क्या उपयोग है?

शायद आपको Corn Flour के बारे में कुछ भी नहीं पता होगा। चलिए चिंता करने वाली कोई बात नहीं है, क्योंकि इस लेख में हमनें Corn Flour के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की है।

आप इस लेख को पढेंगे, तो आप Corn Flour के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर पाएंगे। इस लेख की शुरुआत करने से पहले आपसे निवेदन है कि आप इस लेख को शुरुआत से अंत तक ध्यानपूर्वक अवश्य पढ़े।

इस लेख में निहित जानकारी आपके लिए अत्यंत ही महत्वपूर्ण और लाभदायक साबित होगी। तो चलिए और अधिक समय बर्बाद ना करते हुए शुरू करते है:- Corn Flour in Hindi

सूची दिखाएँ

कॉर्न फ्लोर क्या होता है? : What is Corn Flour in Hindi?

Corn Flour का अर्थ उसके नाम से ही पता चलता है। जैसे Corn शब्द का अर्थ होता है:- मक्का, तथा Flour शब्द का अर्थ होता है:- आटा।

इस प्रकार इन दोनों शब्दों से मिलकर जो नए शब्द की उत्पत्ति होती है, वह Corn Flour अर्थात मक्के का आटा होता है।

Corn Flour का निर्माण मक्के के दानों से छिलका हटाकर उन्हें पीसकर किया जाता है। Corn Flour सफ़ेद रंग के पाउडर के रूप में होता है।

बनावट के तौर पर Corn Flour बहुत ही चिकना होता है और यह बिलकुल मैदा के आटे की भांति होता है।

मक्के का आटा और मक्के का स्टार्च के बीच में क्या अंतर है? : Difference Between Cornmeal Flour/Maize Flour and Corn Flour/Corn Starch in Hindi

Difference Between Corn Starch and Corn Flour in Hindi : कॉर्न स्टार्च और कॉर्न फ्लोर के बीच अंतर
Difference Between Corn Starch and Corn Flour in Hindi : कॉर्न स्टार्च और कॉर्न फ्लोर के बीच अंतर

सामान्यतः मक्के के आटे को Cornmeal Flour के नाम से जाना जाता है। दरअसल, Cornmeal Flour को ही मक्के का आटा कहते है।

Cornmeal Flour अर्थात मक्के के आटे का निर्माण, मक्के के दानों को सुखाकर और फिर उन्हें पीसकर उनका पाउडर बनाकर किया जाता है।

सामान्यतः मक्के का आटा पीला रंग का होता है और यह दरदरा और बारीक रूप में होता है। मक्के के आटे का स्वाद, मक्के की भांति मीठा होता है।

मक्के के आटे का उपयोग मक्के की रोटी बनाने के लिए किया जाता है। मक्के के आटे में विभिन्न प्रकार के विटामिन और पोषक तत्व पाए जाते है।

Corn Flour, मक्के के आटे से अलग होता है। Corn Flour तथा Corn Starch, मक्के का स्टार्च होता है।

Corn Flour तथा Corn Starch का निर्माण मक्के के दानों से छिलका हटाकर उन्हें पीसकर किया जाता है। Corn Flour सफ़ेद रंग के पाउडर के रूप में होता है।

बनावट के तौर पर Corn Flour बहुत ही चिकना होता है और यह बिलकुल मैदा के आटे की भांति होता है। Corn Flour स्वादहीन होता है।

Corn Flour का उपयोग खाद्य पदार्थों को गाढ़ा बनाने के लिए किया जाता है। Corn Flour में विटामिन और पोषक तत्वों की मात्रा मक्के के आटे की तुलना में कम होती है।

कॉर्न फ्लोर में पाए जाने वाले पोषक तत्व : Nutrition Value in Corn Flour in Hindi

पोषक तत्वपोषक तत्वों की मात्रा
एनर्जी44 कैलोरी
प्रोटीन1.1 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट9.1 ग्राम
फैट0.5 ग्राम
फाइबर1.2 ग्राम
विटामिन बी 1 (थियामाइन)0.17 मिलीग्राम
विटामिन बी 2 (राइबोफ्लेविन)0.09 मिलीग्राम
विटामिन बी 3 (नियासिन)1.17 मिलीग्राम
फोलेट विटामिन बी 927.9 माइक्रोग्राम
कैल्शियम16.9 मिलीग्राम
आयरन0.86 मिलीग्राम
मैग्नीशियम13.2 मिलीग्राम
फॉस्फोरस26.7 मिलीग्राम
जिंक0.22 मिलीग्राम
पोटैशियम35.7 मिलीग्राम

कॉर्न फ्लोर के क्या-क्या उपयोग है? : What are the Uses of Corn Flour in Hindi

Corn Flour के उपयोगों की बात करें तो इसका उपयोग खाना बनाने से लेकर बीमारियों के ईलाज में होता है। नीचे दी गई सारणी में Corn Flour के समस्त उपयोगों का उदाहरण सहित वर्णन किया है।

  1. Corn Flour का मुख्य उपयोग आलू टिक्की, केला टिक्की और पोहा टिक्की जैसे खाद्य पदार्थों को कुरकुरा व कड़क बनाने के लिए किया जाता है।
  2. इसके अतिरिक्त Corn Flour का मुख्य उपयोग किसी भी प्रकार की सब्जी के रसा (Gravy) को गाढ़ा बनाने के लिए किया जाता है.
  3. Corn Flour का उपयोग सॉस, स्टेव और सूप आदि खाद्य पदार्थों को गाढ़ा करने के लिए किया जाता है.
  4. इसके आलावा दूध से बनने वाली खाद्य सामग्रियों को गाढ़ा करने के लिए भी Corn Flour का ही उपयोग होता है.
  5. Corn Flour का मुख्य उपयोग तलने वाले खाद्य पदार्थों जैसे:- कटलेट और कोप्ता आदि को बाँधने के लिए किया जाता है.
  6. French Fries जैसे खाद्य पदार्थों को कुरकुरा बनाने के लिए भी Corn Flour का उपयोग किया जाता है।
  7. इसके अलावा Corn Flour का उपयोग गुलाब जामुन, रस मलाई और छैना आदि बनाने में भी किया जाता हैं।
  8. Corn Flour का उपयोग हलवा और कुकीज को बनाने में भी किया जाता है।
  9. फिलर, बाइडिंग और कोफ्ते बनाने में Corn Flour का उपयोग किया जाता है।
  10. आमतौर पर Corn Flour को पाउडर चीनी में एक पिण्डन निरोधक कारक (Anti Caking Agent) के रूप में शामिल किया जाता है। इसे अरारोट का विकल्प (Substitute) भी कहा जा सकता है.
  11. कॉर्नस्टार्च का उपयोग बेकिंग के पहले फलों को कोट करने के लिए भी किया जाता है। उसके बाद उससे पाई, टार्ट और अन्य डिजर्ट बना सकते हैं। कॉर्नस्टार्च की पतली परत फलों के रस के साथ मिश्रित होती है, और फिर इसे बेक करती है।
  12. कॉर्नस्टार्च को एक पिण्डन निरोधक कारक (Anti Caking Agent) के रूप में भी उपयोग किया जाता है। कटे हुआ पनीर को अक्सर कॉर्नस्टार्च के पतले से घोल के साथ लपेटा जाता है। जिससे कि जब इसे आंच पर सेंका जाए तो यह बिखरे नहीं। इससे पनीर अच्छी तरह से सिक जाता है।
  13. खाद्य पदार्थों के अलावा Corn Flour या Corn Starch का उपयोग बेबी पाउडर में भी किया जाता है। Corn Starch का उपयोग जैवप्लास्टिक (Bioplastics) और एयरबैग (Airbag) के निर्माण में भी किया जाता है।
  14. Corn Starch का उपयोग खाद्य पदार्थों के अलावा चिकित्सा में भी किया जाता है। दरअसल Corn Starch या Corn Flour, प्राकृतिक लेटेक्स से बने मेडिकल उत्पादों जैसे:- कंडोम्स, डायाफ्राम और मेडिकल ग्लव्स आदि में एक पसंदीदा एंटी-स्टिक एजेंट (Anti-stick agent) होता हैं.
  15. ग्लाइकोजन स्टोरेज डिजीज वाले लोगों के लिए ब्लड सुगर के स्तर को बनाये रखने के लिए भी Corn Flour का उपयोग किया जाता हैं। क्योंकि इसमें ग्लूकोस की सप्लाई को सक्षम करने के गुण मौजूद होते है। इसका उपयोग 6 से 12 महीने की उम्र में शुरू किया जाता है, जिससे ग्लूकोस के उतार-चढ़ाव को रोका जाता है।

कॉर्न फ्लोर के उपयोग से होने वाले फ़ायदे क्या-क्या है? : What are the Benefits of Corn Flour Uses in Hindi

Corn Flour के उपयोग से होने वाले सभी फ़ायदो की सूची नीचे दी गई है। जिसमें Corn Flour के समस्त फ़ायदों का विस्तारपूर्वक वर्णन किया गया है।

  1. Corn Flour का उपयोग करने से बालों की चिपचिपाहट कम होती है और यह एक सस्ता और प्राकृतिक तरीका भी है। इसके विधि में आपको सिर्फ थोड़ा-सा Corn Starch अपने बालों की जड़ों और कंघी में छिड़क लेना होगा। उसके बाद Corn Starch स्वयं बालों का अतिरिक्त तेल सोख लेगा और फिर आपके बाल घने दिखाई देने लगेंगे।
  2. Corn Flour का उपयोग आँखों की रौशनी को तीव्र करने के लिए भी किया जाता है। मक्के का आटा आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है। मक्के के आटे में विटामिन ए और कैरोटिनॉइड नामक पदार्थ पर्याप्त मात्रा में पाए जाते है। इसलिए Corn Flour का सेवन आंखों के लिए बेहद लाभकारी होता है।
  3. अगर आप अपनी सुन्दरता को लेकर चिंतित है और आपको मैट फिनिश लिपस्टिक का शौक है तो आप अपनी ग्लॉसी लिपस्टिक को मैट फिनिश दे सकती हैं। इसके लिए आपको सिर्फ लिपस्टिक लगाने से पहले अपने होठों पर थोड़ा Corn Starch लगाना होगा और फिर उसके बाद अपना पसंदीदा शेड लगा लें। आप लिप ब्रश से Corn Starch और लिपस्टिक को मिलाकर भी लगा सकती हैं।
  4. Corn Flour आपको अनेक बीमारियों से भी बचने में मदद करता है। मक्के के आटे में आयरन पाया जाता है। इसलिए इसका सेवन करने से एनीमिया बीमारी की समस्या नहीं होती है। मक्के के आटे का सेवन करने से खून की कमी भी नहीं होती है और शरीर में हिमोग्लोबिन का स्तर भी सही बना रहता है।
  5. Corn Flour के उपयोग से आप अपनी त्वचा को धूप की कालिमा (Sunburn) से बचा सकते है। इसके लिए आप धूप से जली त्वचा पर Corn Starch लगाकर आराम दें। Corn Starch में जली त्वचा को ठीक करने के गुण पाए जाते हैं। इसके लिए आप Corn Starch को पानी में मिला कर धूप से जली त्वचा पर 20 मिनट तक लगा कर छोड़ दें और उसके बाद ठंडे पानी से अपनी त्वचा को धो लें। ऐसा करने के बाद आपको कुछ ही देर में आपको राहत महसूस होगी।
  6. Corn Starch पसीने से पसीजे हुए पैरों और अंडरआर्म्स से अतिरिक्त पसीना सोखने के लिए भी काफ़ी फायदेमंद साबित होता हैं। इसके लिए आप थोड़ा-सा Corn Starch अपने अंडरआर्म्स और तलवों पर लगाएं। इसके बाद आपको पसीने की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।
  7. मक्के के आटे का सेवन करने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में फाइबर प्राप्त होता है। जिससे शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर भी सामान्य बना रहता है और इसके साथ-साथ कब्ज की समस्या भी पैदा नहीं होती है।
  8. Corn Starch का उपयोग नेल पेंट को मैट फिनिश देने के लिए भी किया जाता है। इसके लिए आप अपने पसंदीदा नेल पेंट को Corn Starch के साथ मिलाएं और अपने नाखूनों पर लगा लें।
  9. मक्के के आटे का सेवन करने से शरीर में विभिन्न प्रकार के विटामिन प्राप्त होते है। जिससे पूरे शरीर में ऊर्जा का संचार निरंतर रूप से होता रहता है और बार-बार भूख भी नहीं लगती है। जिससे आप अतिरिक्त खाने से बच जाते हैं और इससे आपका वजन बढ़ने की समस्या भी उत्पन्न नहीं होती है।
  10. आप अपनी त्वचा को कॉर्न स्टार्च की मदद से ढीला पड़ने अर्थात झुर्रियों से बचा सकती हैं। Corn Starch का उपयोग करने से आपकी त्वचा को चिपकी हुई रहेगी। Corn Starch आपकी त्वचा की अशुद्धियां भी साफ करता है और उसे नम बनाए रखता है। इसके उपयोग के लिए आप एक अंडे के सफेद भाग को Corn Starch के साथ मिलाएं और चेहरे पर लगा लें। फिर 20 मिनट बाद अपना चेहरा धो लें और फिर एक अच्छा मॉइस्चराइजर लगा लें। अच्छे नतीजों के लिए इसे सप्ताह में कम से कम तीन बार Corn Starch अपनी त्वचा पर लगाएं।
  11. पसीने और तंग कपड़ों को पहनने से अक्सर ही जांघों के भीतरी हिस्से में रैशेज हो जाते हैं। इन्हें भी आप Corn Starch के उपयोग से ठीक कर सकते हैं। इसके लिए आपको सिर्फ थोड़ा-सा Corn Starch अपनी जांघों के भीतरी हिस्से में लगा लेना होगा। ऐसा करने से आपको रैशेज की समस्या से काफी फायदा प्राप्त होगा। यही नहीं बल्कि, बच्चों की त्वचा पर डाइपर से हुए रैशेज पर भी इसे लगाया जा सकता है। इसके लिए बच्चों के नहाने के पानी में एक चौथाई कप Corn Starch मिलाएं। इसके आलावा अगर आपको कोई कीड़ा काट ले, तो उससे होने वाली जलन से भी Corn Starch आपको राहत प्रदान करता है।
  12. रोजाना मक्के के आटे का सेवन करने से शरीर को निरंतर रूप से पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी प्राप्त होता है। जिससे हाइपरटेंशन की समस्या उत्पन्न नहीं होती है और ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है।
  13. Corn Starch के उपयोग से आप हल्की जली त्वचा का उपचार भी कर सकते हैं। इसके लिए आप 8 कप गुनगुने पानी में 1 बड़ा चम्मच Corn Starch मिलाएं और उतना ही बेकिंग सोडा भी मिलाएं। अब इसमें रुई या साफ सूती कपड़ा डुबोकर जली त्वचा पर लगा लें और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। ऐसा करने से आपको जली त्वचा पर काफ़ी आराम मिलेगा।
  14. Corn Starch का उपयोग आप बेबी पाउडर के तौर पर भी कर सकते है। इसके लिए आप एक डिब्बे में Corn Starch भरें और उसमें कुछ बूंदें अपनी पसंदीदा खुशबू वाले तेल की डालें। उसके बाद इस मिश्रण को अच्छे से मिलाएं और फिर अपने शरीर पर लगाएं।
  15. Corn Starch का उपयोग आप फेस क्लीनर के तौर पर भी कर सकते हैं। इसके लिए आप 2 बड़े चम्मच Corn Starch को उतनी ही मात्रा की ग्लिसरीन और आधा कप पानी के साथ मिलाएं और गाढ़ा होने तक उबलने दें। गाढ़ा होने के बाद इसे ठंडा कर साबुन की जगह इस्तेमाल करें।
  16. Corn जवान और बुजुर्ग व्यक्तियों में हड्डियों की कमजोरी दूर करने में काफ़ी फ़ायदेमंद साबित होता है। Corn में फोस्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन और कॉपर आदि प्रदार्थ प्रचुर मात्रा में पाए जाते है। इन सभी पोषक तत्वों के उपयोग से हड्डियों को मजबूती प्रदान होती है।
  17. कॉर्न के सेवन से दांतों को मजबूती प्रदान होती है। बच्चों को भुट्टे बहुत पसंद होते है। इसलिए अगर बच्चों को भुट्टे को सेंककर खिलाया जाये तो इससे उन्हें प्रोटीन प्राप्ति के साथ-साथ उनके दांतों को भी मजबूती प्रदान होती है।
  18. मक्की के दानों को आग में भून कर इसका गंध सूखने से बंद नांक जल्दी खुल जाती है। इसके साथ-साथ आग में भुनी गरम-गरम मक्की खाने से गले की खर्राश और जुकाम जैसी समस्या से बड़ी राहत प्राप्त होती है।
  19. कॉर्न दिल से सम्बन्धित बीमारियों को दूर करने में भी काफ़ी लाभकारी है। इसमें विटामिन C मौजूद होता है, जो कि शरीर में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखने में मदद करता है। जिससे हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारी का खतरा भी कम हो जाता है।
  20. गर्भवती महिलाओं को कॉर्न का सेवन करना बहुत फ़ायदेमंद होता है। कॉर्न में फोलिक एसिड भरपूर मात्रा में होता है। जो कि शिशु के वजन को बढ़ाने में सहायक होता है।
  21. Corn Flour में मौजूद अघुलनशील फाइबर जैसे ऐमिलोस, सेल्यूलोस और लिग्निन के कारण इसके उपयोग से पाचन क्रिया आसान हो जाती हैं। जो कि हमारी आँतों के लिए लाभकारी होता है.

कॉर्न फ्लोर के उपयोग से होने वाले फ़ायदे क्या-क्या है? : What are the Disavantages of Corn Flour Uses in Hindi

Corn Flour के उपयोग से होने वाले सभी नुकसानों की सूची नीचे दी गई है। जिसमें Corn Flour के समस्त नुकसानों का विस्तारपूर्वक वर्णन किया गया है.

  1. Corn Flour का सेवन करने से एलर्जी और त्वचा पर चकत्ते, उल्टी आदि जैसे लक्षण उत्पन्न हो सकते है। इसके अलावा कई लोगों को मक्का खाने के बाद अस्थमा का दौरा भी पड़ जाता है।
  2. वर्तमान में बाजार में मौजूद कॉर्न पर बहुत से इंसेक्टिसाइड पेस्टिसाइड का इस्तेमाल किया जाता है। जिन फसलों पर इंसेक्टिसाइड तथा पेस्टिसाइड का इस्तेमाल अधिक मात्रा में किया जाता है, उनके सेवन से कैंसर का खतरा उत्पन्न हो जाता है।
  3. Corn Flour में बहुत अधिक कैलोरी एवं कार्बोहाइड्रेट मौजूद होता है। जो कि वजन कम करने के लिए बाधा उत्पन्न करता है।
  4. Corn Flour कई लोगों के लिए एक मुख्य भोजन है। ऐसी स्थिति में Corn Flour के रोजाना सेवन से पिलाग्रा (Pellagra) होने का खतरा भी उत्पन्न हो जाता है। आपको बता दें कि विटामिन की कमी को पिलाग्रा कहते हैं।
  5. Corn Flour मधुमेह से पीड़ित लोगों पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है। इससे शरीर में रक्त शर्करा का स्तर बढ़ जाता है।
  6. Corn Flour का अधिक मात्रा में उपयोग करने से यह आपके शरीर में LDL को बढ़ाता हैं जो कि एक खराब कोलेस्ट्रॉल होता है।
  7. Corn Flour फाइबर और अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का एक काफ़ी अच्छा स्रोत है। जो कि शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। लेकिन इन तंतुओं की एक ज्यादा खुराक आपके पेट के लिए हानिकारक साबित हो सकती है। जिससे आपको खाना पचाने में मुश्किल उत्पन्न हो सकती है।
  8. मकई को कच्चा नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह दस्त का परिणाम हो सकता है। मकई पेट के कई रोगों को उत्पन्न करती है।

नोट:- हालाँकि यह सब चीजें कॉर्न की सोर्सिंग और प्रोसेसिंग पर निर्भर करती है, कि आटा स्वस्थ है अथवा नहीं। तो आप सेफ साइड के लिए पैक किये गये कॉर्न का उपयोग करने के बजाय ताज़ा कॉर्न का इस्तेमाल करें और घर पर ही आटा बनाएं। जो उपयोग करने में आसान और स्वस्थ होगा.

मकई का आटा कैसे बनाया जाता है? : How To Make Corn Flour in Hindi?

Corn Flour Se Kya Kya Banta Hain?
Corn Flour Se Kya Kya Banta Hain?

मकई का आटा बनाने की बात करे तो यह घर में भी काफी आसानी से बनाया जा सकता है। लेकिन, इसको बनाने की सम्पूर्ण प्रक्रिया में बहुत ज्यादा समय खर्च होता है।

इसके अलावा आपको मकई का आटा घर पर बनाने के लिए काफी ज्यादा मेहनत भी करनी पड़ती है।

अंत में आपके लिए सबसे आवश्यक सूचना यह है कि मकई को पीसने के लिए आपके पास आटा पीसने वाली चक्की का होना अत्यंत आवश्यक है।

मकई का आटा बनाने की विधि नीचे दी गई है। जिसमें मकई के आटा की निर्माण विधि का विस्तारपूर्वक वर्णन किया गया है।

  1. सबसे पहले बाजार से ख़रीदे हुए मकई के सूखे दानों को एक जगह बिछा लीजिये।
  2. उसके बाद उन मकई के दानों की सफाई करके उनमें से कंकड़ तथा अन्य प्रकार के बीजों को मकई के दानों से अलग कर लीजिये।
  3. अब इन मकई के दानों को पानी में अच्छे से धोकर इन पर लगी हुई मिट्टी और धूल आदि को साफ़ कर लें।
  4. मकई के दानों को धोने के बाद इन दानों को एक बर्तन में पानी और चूना डालकर रख लें।
  5. चूने का भी विशिष्ट मात्रा में उपयोग करना बहुत आवश्यक है।
  6. बुलबुले आने के बाद इस पानी को मकई के दानों से अलग करने के लिए छान लीजिये।
  7. छानने के बाद करीब आधे से एक घंटे के लिए मकई के दानों को पका लीजिये, जिससे सूखे हुए कठोर मकई के दाने नरम पड़ जाए।
  8. मकई के दानों को पकाने के बाद उन दानों को उसी पानी में करीब 12 घंटों तक भिगोने के लिए रखें।
  9. लंबे समय तक दानों को भीगने से यह ज्यादा नर्म हो जाते है। इसीलिए इन्हें विशिष्ट समय तक ही भिगो कर रखें।
  10. अगले दिन इन मकई के दानों को हाथ से रगड़कर छिल लें। जिससे कि मकई के दानों के ऊपर मौजूद छिलके दानों से अलग हो जाते हैं।
  11. छिलकों को अलग करने के बाद मकई के दानों को ठंडे पानी से धो लीजिये।
  12. फिर इन मकई के दानों को चक्की में पीस लीजिये।
  13. अब आपका मकई का आटा तैयार है।
  14. मकई के आटे को हमेशा ठंडी और सूखी जगह रखा जाता है। ताकि यह लंबे समय तक टिक सके।

कॉर्न फ्लोर का भंडारण कैसे किया जाता है? : How is The Corn Flour Stored in Hindi?

जैसा कि आप जानते है कि Corn Flour या Corn Starch एक प्रकार से आटे का रूप है। इसलिए यह नमी को अवशोषित करता है।

अतः नमी से बचाने के लिए इसे हवाबंद डिब्बे में रखना चाहिए। ऐसा करने से यह नमी के संपर्क में नहीं आयेगा और Corn Flour सुरक्षित रहेगा।

Corn Flour को अत्यधिक गर्म स्थान पर नहीं रखा जाना चाहिए। बल्कि इसे हवाबंद डिब्बे में रखकर उस डिब्बे को ठंडी और सूखी जगह पर रखना चाहिए।

यदि यह सही तरीके से भंडारित किया गया हैं, तो यह कई वर्षों तक उपयोग योग्य बना रहता है।

कॉर्न फ्लोर से क्या-क्या सामग्रियां बनाई जा सकती है? : What Things Can be Made From Corn Flour in Hindi?

Corn Flour से बहुत से प्रकार के खाद्य पदार्थ और व्यंजन बनाए जाते है। Corn Flour से बनने वाली सभी सामग्रियों कि सूची नीचे दी गई है और इन सभी का विस्तारपूर्वक वर्णन भी किया गया है.

1. टिक्कर

टिक्कर एक प्रकार की रोटी है। जो कि मकई के आटे से बनती है। यह रोटी राजस्थान की प्रसिद्द रोटी है।

यह रोटी स्वाद में थोड़ी मीठी होती है और इसे गरम-गरम ही परोसा जाता है। लिट्टी बनाने के लिए भी राजस्थान में मकई के आटे का इस्तेमाल करते है।

2. पराठा

पराठे को अनेक प्रकार से बनाया जा सकता है। जैसे कि मेथी के पराठे, आलू के पराठे आदि।

इन सभी को बनाने के लिए गेहूँ या मैदा इस्तेमाल किया जाता है। इसी प्रकार से मकई के आटे से भी पराठे बनाए जाते है।

3. ढोकला

सामान्य रूप से ढोकला बनाने के लिए बेसन का इस्तेमाल किया जाता है। जबकि, गुजरात में ढोकला बनाने के लिए मकई का इस्तेमाल किया जाता है।

4. मेक्सिकन टैको

टैको एक मैक्सिकन स्नैक है और यह अब पूरी दुनिया में काफ़ी मशहूर है। इस स्नैक को मकई के आटे के साथ बनाया जाता है।

इसके साथ ही पैनकेक, केक, ब्रेड और अन्य पदार्थों को बनाने के लिए भी मकई के आटे का इस्तेमाल किया जाता है।

CORN FLOUR MEANING IN ENGLISH
CORN FLOUR
CORN FLOUR MEANING IN HINDI
मक्के का आटा
CORN FLOUR MEANING IN MARATHI
मक्याचं पीठ
CORN FLOUR MEANING IN GUJARATI
મકાઈનો લોટ
CORN FLOUR MEANING IN BENGALI
ভুট্টার আটা
CORN FLOUR MEANING IN PUNJABI
ਮੱਕੀ ਦਾ ਆਟਾ
CORN FLOUR MEANING IN ODIA (ORIYA)
ମକା ମଇଦା |
CORN FLOUR MEANING IN URDU
مکئی کا آٹا
CORN FLOUR MEANING IN TAMIL
சோள மாவு
CORN FLOUR MEANING IN TELUGU
మొక్కజొన్న పిండి
CORN FLOUR MEANING IN KANNADA
ಜೋಳದ ಹಿಟ್ಟು
CORN FLOUR MEANING IN MALAYALAM
ചോളമാവ്

ये भी पढ़े:-

Kitchen Items Name in Hindi : रसोई के सभी सामानों का नाम

7 Rainbow Colours Name in Hindi : इन्द्रधनुष के 7 रंगों के नाम

Fish Name in Hindi : मछलियों के नाम

Reptiles Name in Hindi : रेंगने वाले जीवों के नाम

Human Body Parts Name in Hindi : मानव शरीर के अंगों के नाम

Spices Name in Hindi : मसालों के नाम

Vegetables Name in Hindi : सब्जियों के नाम

Birds Name in Hindi : पक्षियों के नाम

Domestic & Pet Animals Name in Hindi : पालतू जानवरों के नाम

Wild Animals Name in Hindi : जंगली जानवरों के नाम

Flowers Name in Hindi : फूलों के नाम

ऋतुओं के नाम : Seasons Name in Hindi

Week Days Name in Hindi : सप्ताह के दिनों का नाम

Months Name in Hindi : महीनों के नाम

Colours Name in Hindi : रंगों के नाम

Fruits Name in Hindi : फलों के नाम

1 से 100 तक हिंदी गिनती : 1 to 100 Hindi Ginti

Musical Instruments Name in Hindi : संगीत वाद्ययंत्रों के नाम

Rajasthan Map District Wise in Hindi : राजस्थान राज्य का ज़िलों सहित मानचित्र

FAQ’s About Corn Flour in Hindi

यह भी पढ़े:-

OKR Full FormNRC Full Form
UPS Full FormXML Full Form
RIP Full FormCAA Full Form
IAS Full FormMBBS Full Form
NASA Full FormGDP Full Form

निष्कर्ष

अंत में आशा करता हूँ कि यह Corn Flour in Hindi लेख आपको पसंद आया होगा और आपको हमारे द्वारा इस लेख में प्रदान कि गई अमूल्य जानकारी फायदेमंद साबित हुई होगी।

अगर इस Corn Flour in Hindi लेख के द्वारा आपको किसी भी प्रकार की जानकारी पसंद आई हो तो, इस लेख को अपने मित्रो व परिजनों के साथ फेसबुक पर साझा अवश्य करें।

इसके अतिरिक्त यदि आपके मन में Corn Flour in Hindi लेख से संबंधित कोई प्रश्न उठ रहा है? तो आप कमेंट के माध्यम से हमसे पूछ सकते हैं।

हम आपके द्वारा पूछे गए सभी के प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे। भविष्य में भी हम आपके लिए ऐसे ही रोचक व उपयोगी लेख लाते रहेंगे।

अतः आप भविष्य में प्रकाशित होने वाले सभी लेखों कि ताज़ा जानकारी के लिए कृपया हमारे फेसबुक पेज और वेबसाइट को Subscribe कर ले।

ताकि आपको भविष्य में प्रकाशित होने वाले लेखों की ताज़ा जानकारी समय पर प्राप्त हो जाये।

धन्यवाद…

Search Queries : Corn Flour in Hindi, Corn Starch in Hindi, Corn Flour Meaning in Hindi, Corn starch in Hindi , Corn Flour Kya Hota hai, Corn Starch Kya hota hai, White Corn Flour in Hindi, Corn Starch in Hindi, Corn Flour Powder in Hindi, Corn Flour in Hindi Ararot, White Corn Flour Meaning in Hindi, Corn Flour Price, Corn Flour in Punjabi, Cornflower Meaning in Hindi

Leave a Comment